Home News Congress Manifesto 2024: कांग्रेस ने किया बड़ा दावा, जारी किया घोषणापत्र

Congress Manifesto 2024: कांग्रेस ने किया बड़ा दावा, जारी किया घोषणापत्र

16
0
Congress Manifesto 2024

News | Lok Sabha Election 2024, Congress Manifesto 2024: आगामी लोकसभा के मद्देनजर सियासी खेल जारी है। इसकी कड़ी में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने आगामी लोकसभा चुनाव के लिए अपना घोषणापत्र जारी कर दिया है। पार्टी ने अपने घोषणा पत्र में पांच न्याय शामिल किया है जिसमें युवा न्याय, नारी न्याय, किसान न्याय, श्रमिक न्याय और हिस्सेदारी न्याय का जिक्र है। कांग्रेस का कहना है कि हम मिलकर इस अन्याय काल के अंधेरे को दूर करेंगे और भारत के लोगों के लिए एक समृद्ध, न्याय से भरे और सामंजस्यपूर्ण भविष्य का रास्ता बनाएंगे।

Lok Sabha Election 2024, Congress Manifesto 2024
Congress Manifesto 2024

Congress Manifesto 2024 में इन बातों का किया गया है जिक्र

  • जातियों और उपजातियों और उनकी सामाजिक-आर्थिक स्थितियों की गणना के लिए एक राष्ट्रव्यापी सामाजिक-आर्थिक और जाति जनगणना आयोजित की जाएगी। आंकड़ों के आधार पर सकारात्मक कार्रवाई के एजेंडे को मजबूत किया जाएगा।
  • एससी, एसटी और ओबीसी के लिए आरक्षण की सीमा 50 प्रतिशत बढ़ाई जाएगी।
  • आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों (EWS) के लिए नौकरियों और शैक्षणिक संस्थानों मे 10 प्रतिशत का आरक्षण बिना किसी भेदभाव के सभी जातियों और समुदायों के लिए लागू किया जाएगा।
  • एक साल के अंदर एससी, एसटी और ओबीसी के लिए आरक्षित पदों की सभी बैकलॉग रिक्तियों पर भर्ती।
  • कांग्रेस सरकार और सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यमों में नियमित नौकरियों की संविदा व्यवस्था को खत्म कर देगी।
  • घर-निर्माण, व्यवसाय शुरू करने और संपत्ति खरीदने के लिए एससी और एसटी को संस्थागत ऋण बढ़ाया जाएगा।
  • भूमि सीमा अधिनियम के तहत गरीबों को सरकारी भूमि और अधिशेष भूमि के वितरण की निगरानी के लिए एक प्राधिकरण की स्थापना की जाएगी।
  • एससी और एसटी समुदायों से संबंधित ठेकेदारों को ज्यादा सार्वजनिक कार्य कॉन्ट्रैक्ट देने के लिए पब्लिक खरीद पॉलिसी का दायरा बढ़ाया जाएगा।
  • ओबीसी, एससी और एसटी छात्रों के लिए स्कॉलरशिप की धनराशि दोगुनी की जाएगी, खासकर हाइयर एजुकेशन के लिए. एससी और एसटी छात्रों को विदेश में पढ़ने में सहायता और उनके लिए पीएचडी करने के लिए स्कॉलरशिप की संख्या दोगुनी की जाएगी।
  • गरीबों, एससी और एसटी छात्रों के लिए आवासीय विद्यालयों का एक नेटवर्क बनाया जाएगा और इसे हर ब्लॉक तक बढ़ाया जाएगा।

घोषणापत्र जारी होने के बाद राहुल गांधी का बयान

कांग्रेस का घोषणापत्र (Congress Manifesto 2024) जारी होने के बाद कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा कि ये मेनिफेस्टो कांग्रेस पार्टी ने नहीं, हिंदुस्तान की जनता ने बनाया है। हमने इसको सिर्फ लिखा है। इसमें रोजगार, कॉन्ट्रैक्ट या फिर मजदूर की बात है। हमने हजारों लोगों से बात करके लिखा है। हम जनता के साथ मिलकर उनके लिए लड़ते हैं।

राहुल गांधी ने अपनी बातों से पीएम मोदी और आरएसएस को घेरने की कोशिश की। उन्होनें कहा कि RSS और बीजेपी ने और खास तौर पर नरेंद्र मोदी ने जो स्ट्रेटिजी बनाई है, उसको समझना होगा नरेंद्र मोदी ने ईडी और सीबीआई के जरिए पॉलिटिकल फाइनेंस की मोनोपली बनाई है। हमारे अकाउंट बंद कर दिए हैं, जो भी भ्रष्ट हैं, वो बीजेपी में जा रहे हैं।

कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने भी रखी अपनी बात

वहीं, इसको लेकर कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने भी अपनी बात रखी। इस विषय पर उन्होनें कहा कि, हमारा यह घोषणापत्र (Congress Manifesto 2024) देश के राजनीतिक इतिहास में ‘न्याय के दस्तवेज’ के रूप में याद किया जाएगा। राहुल गांधी के नेतृत्व में चलाई गई ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ इसी पर केंद्रित थी। यात्रा के दौरान पांच स्तंभों- युवा न्याय, किसान न्याय, नारी न्याय, श्रमिक न्याय और हिस्सेदारी न्याय की घोषणा की गई। इन पांच स्तंभों में से 25 गारंटी निकलती हैं और हर 25 गारंटी में किसी न किसी को लाभ मिलता है।

ये भी पढ़ें : OpenAI voice engine: क्या है OpenAI का voice engine टूल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here